BJP did not keep Brijmohan Agarwal as its own and…? Listen to what former minister Kawasi Lakhma said to the media with relish, video hereBrijmohan Agarwal
Spread the love

रायपुर, 14 जून। Brijmohan Agarwal : रायपुर के नये सांसद और छत्तीसगढ़ सरकार में शिक्षा मंत्री बृजमोहन अग्रवाल को लेकर छत्तीसगढ़ में राजनीति गरमायी हुई है। मंत्री पद से इस्तीफा को लेकर बृजमोहन अग्रवाल के बयान पर पूर्व मंत्री कवासी लखमा ने पलटवार कर तीखा हमला किया है।

सांसद बृजमोहन अग्रवाल पर अब कांग्रेस ने भी निशाना साधा है। पूर्व मंत्री कवासी लखमा ने कहा  कि भाजपा में अंदरूनी मामला शुरू हो गया है। बृजमोहन अग्रवाल को भाजपा ने न घर का रखा और न घाट का। बृजमोहन अग्रवाल खुद को छत्तीसगढ़ का डॉन समझते थे, लेकिन अब डॉन बिल्ली बन गए हैं। विष्णु देव सरकार उनको कहीं का नहीं छोड़ने वाली है। वह ना विधायक बन पाएंगे और ना ही सांसद। पूर्व मंत्री कवासी लखमा के इस बयान के बाद एक बार फिर सूबे की राजनाति में बवाल मचना तय माना जा रहा है।

बृजमोहन के अब इस्तीफे पर सियासत

छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद अब सियासत तेज हो गई है। मंत्री से सांसद बने बृजमोहन अग्रवाल के इस्तीफे को लेकर अब सूबे में जमकर चर्चा हो रही है। हालांकि उन्होंने इशारों में साथ कह दिया है कि उनको इस्तीफा देने की कोई जल्द नहीं है। इतना ही नहीं अब बृजमोहन अग्रवाल कांग्रेस के निशाने पर भी आ गए हैं। उन्होंने इस पूरे विवाद पर बड़ा बयान भी दिया है जिसकी जमकर चर्चा हो रही है।

मंत्री और सांसद बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि मंत्री तो मैं 6 महीने तक रह सकता हूं। मुख्यमंत्री जब कहेंगे तब मंत्री पद से इस्तीफा दूंगा। इस्तीफा कौन से पद से देना यह तो पार्टी निर्देश के बाद समझ (Brijmohan Agarwal) आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed