Spread the love

नरायणपुर, 23 मई। Naxalite Heap : नारायणपुर से बड़ी खबर सामने आई है। नाराणपुर-बीजापुर के सीमावर्ती क्षेत्र में नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हो गई है। दोनों तरफ से हो रही फायरिंग में जवानों ने सात नक्सलियों को मार गिराया है। अभी भी रूक-रूककर मुठभेड़ जारी है। मौके से सुरक्षाबलों ने माओवादियों के शव और हथियार बरामद किये है। बता दें कि एक महीने में दूसरी बड़ी कामयाबी है। इसके पहले बीजापुर जिले के गंगालूर क्षेत्र के पीडिया गांव में जवानों ने 12 नक्सलियों को मार गिराया था।

दरअसल, नाराणपुर पुलिस को नाराणपुर-बीजापुर के सीमावर्ती क्षेत्र में प्लाटून नंबर 16 और इंद्रावती एरिया कमिटी में नक्सलियों के होने की सूचना मिली थी। आज सुबह 11 बजे नारायणपुर-दंतेवाड़ा-बस्तर डीआरजी, बस्तर फाइटर्स और एसटीएफ की संयुक्त टीम नक्सल विरोधी सर्च अभियान पर निकली थी। इसी दौरान जवानों को देखकर जंगलों में छिपे माओवादियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी।

तीनों जिलों के सुरक्षाकर्मियों ने मोर्चा संभालते हुए जवाबी फायरिंग की। इस दौरान लगभग 7 वर्दीधारी नक्सली मारे गए। मौके से जवानों ने 7 नक्सली हथियार सहित अन्य सामान बरामद किया है। वहीं कई नक्सलियों के घायल होने की जानकारी भी मिल रही है। फिलहाल रूक-रूककर फायरिंग जारी है। घटना के संबंध में विस्तृत जानकारी पुलिस द्वारा दी जाएगी।

पहले भी 29 नक्सलियों को मार गिराए

बता दें कि छत्तीसगढ़ के कांकेर में 16 अप्रैल 2024 को नक्सलियों और जवानों के बीच मे मुठभेड़ हुई थी। मुठभेड़ में करीब 29 नक्सली मारे गए थे। दरअसल, कांकेर जिला के छोटेबैठिया क्षेत्र के बिनागुण्डा एवं कोरोनार के मध्य हापाटोला के जंगल में 30 से 50 नक्सलियों के होने की सूचना मिली थी। इस सूचना पर डीआरजी, एवं बीएसएफ की संयुक्त पार्टी ऑपरेशन पर निकली थी। जवानों को आते देख नक्सलियों ने फायरिंग कर दिया। जवानों ने भी जवाबी फायरिंग की। इस मुठभेड़ में 29 नक्सली मारे गए थे। सर्च अभियान में पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *